Setting Goal: खुद को सफल बनाने के लिए सेट करें Goal, जानें ये आसन टिप्स

Setting Goal: जीवन को अच्छी तरह से जीने के लिए एक लक्ष्य का होना बहुत आवश्यक है। इससे जीवन में एक दिशा की प्राप्ति होती है। क्योंकि बिना किसी लक्ष्य के जीवन व्यर्थ है और दिशाहीन है। कई लोग ऐसे हैं जो बिना किसी लक्ष्य के जीवन जीते हैं। उनके जीवन मे कोई दिशा नहीं होती है। इस तरह के लोगों को एक समय के बाद बहुत पछताना परता है और वे जीवन मे कुछ हासिल नहीं कर पाते हैं। इसलिए जीवन मे कुछ हासिल करने के लिए एक लक्ष्य का निर्धारण करना चाहिए और उसपर पूरी लगन के साथ काम करना चाहिए। आज इस रिपोर्ट में हम आपको जीवन में लक्ष्य तय करने के तरीके के बारे में बताएंगे।

सबसे पहले अपनी रुचि (Interest) को पहचाने

जीवन मे लक्ष्य को निर्धारित करने के लिए रुचि (Interest) का पता चलना बहुत आवश्यक है। लोगों को जिस भी काम में रुचि होती है, वे उस काम को पूरे मन से करते हैं और उसमें अपनी पूरी मेहनत लगा देते हैं। ऐसे में जिस काम में रुचि हो वो काम करने से सफलता अवश्य मिलती है। वहीं दूसरे के लक्ष्य (Setting Goal) को देखकर अपने लक्ष्य का निर्धारण नहीं करना चाहिए। इससे नुकसान ही सकता है। क्योंकि सबकी अपनी एक अलग पसंद होती है।

लक्ष्य के लिए योजना (Planning) है बहुत जरूरी

किसी भी लक्ष्य को प्राप्त (Setting Goal) करने के लिए एक बेहतर योजना का होना बहुत जरूरी है। क्योंकि बिना किसी योजना के लक्ष्य को प्राप्त नहीं किया जा सकता है। इसलिए लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए कब क्या करना है उसका पता पहले ही योजना के रूप में होनी चाहिए। ऐसे में योजना बना कर लक्ष्य का पीछा करना चाहिए और उसपर मेहनत करनी चाहिए। इससे लक्ष्य आसानी से प्राप्त हो सकता है।

लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए सही दिशा (Right Direction) में करें प्रयास

लोग कई बार अच्छी तरह से प्लान बनाकर लक्ष्य की प्राप्ति (Setting Goal) के लिए मेहनत करते हैं। लेकिन उन्हें उसका फल नहीं मिल पाता है। ऐसे में सही दिशा में प्रयास करना भी बहुत आवश्यक है। क्योंकि अगर प्रयास किया जाए लेकिन वो दिशाहीन हो तो ऐसे में सफलता नहीं मिलती है और सारी मेहनत बेकार हो जाती है। ऐसे में सही दिशा में लक्ष्य की प्राप्ति के लिए मेहनत करनी चाहिए।

Setting Goal छोटे हिस्सों में बांटे (Divide Goal into Small Parts)

आप हमेशा अपने गोल को एक बड़े स्तर पर सेट करते हैं। लेकिन उसे पूरा करने के लिए आपको उसे छोटे-छोटे हिस्सों में बांट देना चाहिए। इन छोटे-छोटे हिस्सों को कंप्लीट करने के बाद आपका सेल्फ कॉन्फिडेंस बढ़ेगा जिससे आप अपने बड़े गोल को बेहद ही आसानी और आत्म विश्वास के साथ पा सकते हैं।

S.M.A.R.T पर होना चाहिए गोल (Goal Should be S.M.A.R.T)

Setting Goal

गोल सेट (Setting Goal) करने से पहले कुछ चीजों का निर्धारण करना काफी आवश्यक है जैसे कि आप का गोल स्पष्ट होना चाहिए (Specific), नापने योग्य होना (Measurable) चाहिए, प्राप्त करने योग्य होना चाहिए (Achievable), वास्तविक होना चाहिए (Realistic) और अंततः समय बंद होना चाहिए (Fix Time)। आइए उदाहरण के जरिए इसे बेहद ही आसानी से समझने का प्रयास करते हैं।

अगर आप एक गोल सेट करते हैं कि 5 साल में 10 वीं पास करना है। यह गोल स्पष्ट और नापने योग्य तो है। लेकिन यह प्राप्त करने और वास्तविक नहीं है। ऐसा इसलिए क्योंकि 5 साल में 10 वीं पास करना बेहद ही नामुमकिन है। हां अगर बेहद ही बुद्धिमान है तो ऐसा कर सकते हैं लेकिन इसका भी चांस बहुत कम है।

वहीं अगर आप एक समय निर्धारित करते हैं कि 8 या 10 साल में आपको 10 वीं पास कर लेना है तो यह कहीं ना कहीं प्राप्त किया जा सकता है। आपके इस गोल में specific, measurable, achievable, realistic और time fix हैं।

साफ शब्दों में कहा जाए तो आपको एक ऐसा गोल सेट करना चाहिए जो वास्तविक तौर पर प्राप्त किया जा सकता हो और इसके लिए सही समय निर्धारित करना भी बेहद ही आवश्यक है।

दृघ इच्छाशक्ति (Powerful Desire)

गोल सेट (Setting Goal) करने से पहले आपको यह देखना होगा कि आप में अपने सपने या अपने लक्ष्य (Goal) को प्राप्त करने के लिए इच्छा शक्ति है या नहीं। अगर आप में तीव्र इच्छा शक्ति है तो ही आप अपने सपने या लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं। किसी भी लक्ष्य को बिना इच्छाशक्ति के प्राप्त नहीं किया जा सकता। आपको दिन-रात इसके लिए मेहनत करनी होगी। आपके मन को उसके प्रति कठोर बनाना होगा। अंग्रेजी में कहां जाता है अगर आपको अपना लक्ष्य प्राप्त करना है तो सबसे पहले उसके प्रति इच्छा शक्ति को बढ़ाना होगा (You Have Powerful Desire To Achieve Your Goal)।

आत्मविश्वास बढ़ाए (Self Confidence)

गोल सेट करने से पहले अपने आत्मविश्वास (Self Confidence) पर काम करें। उसे इतना मजबूत कर ले कि किसी के कुछ कहने या करने से आपको फर्क ना पड़े। जब आप कोई काम करते हैं तो सफलता से पहले कई असफलताएं हाथ लगती है। ऐसे में आपका मन डगमगाता है और लोग भी यही सलाह देते हैं कि इसे छोड़ दें। इस समय आपका आत्मविश्वास (Self Confidence) उसे छोड़ने नहीं देगा और आप निरंतर प्रयास करते रहेंगे। एक दिन ऐसा आयेगा जब आप लक्ष्य को प्राप्त कर सफल हो जाएंगे।

 

Leave a Comment