AC Side Effect: एयर कंडीशनर की हवा सेहत पर करती है गहरा असर, जानें इसके नुकसान

AC Side Effect: देश में इन दिनों मानसून चल रहा है। वही मध्य भारत में आज भी गर्मी का असर देखने को मिल रहा है। ऐसे में लोग घर से ऑफिस तक AC की हवा लेना काफी पसंद करते हैं। गर्मी से बचने और टेंपरेचर को कम रखने के लिए AC रोजमर्रा की जरूरत बन गई है। कई लोग तो बिना एसी के बिना एक पल भी नहीं रह पाते हैं।

लेकिन उनमें से बहुत कम लोगों को यह बात पता है कि घंटों तक ऐसी में बिताना आपकी सेहत को गहरा नुकसान पहुंचा सकता है। एसी पर ज्यादा देर रहने से आपको इंफेक्शन और एलर्जी जैसी समस्याएं हो सकती हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे ही साइड इफेक्ट के बारे में बताएंगे जो ऐसी की हवा से होता है।

आंखों में सूखापन (Dry Eyes)

एसी में ज्यादा समय गुजारने से सबसे पहली समस्या आपके आंखों को हो सकती है। एसी (AC Side Effect) में रहने से आपकी आंखें सूख जाती हैं। आंखें सूखने से इसमें खुजली और जलन की समस्या बढ़ जाती है। ऐसे में जिन भी व्यक्ति को ड्राई आइ सिंड्रोम (Dry Eye Syndrome) है, उन्हें एसी में वक्त नहीं गुजारना चाहिए।

पानी की कमी (Dehydration)

जहां एसी (AC Side Effect) आप को गर्मी से बचाता है वही आपके शरीर के पानी को भी सोख लेता है। इससे आप डिहाइड्रेशन का शिकार होते हैं। असल में एसी का काम है कमरे की नमी को सोख ना और यही काम वह आपके शरीर के साथ भी करता है। इससे आपको डिहाइड्रेशन हो सकता है।

सर दर्द (Headache)

इसी (AC Side Effect) में ज्यादा वक्त रहने से सिर दर्द और माइग्रेन की समस्याएं बढ़ जाती है। जैसा कि आपने पढ़ा कि इससे डिहाइड्रेशन की समस्या होती है और डिहाईड्रेशन अक्सर माइग्रेन की समस्या को ट्रिगर करता है। जब आप गर्मी से डायरेक्ट एसी वाले कमरे में कदम रखते हैं या ऐसी के कमरे से गर्मी में जाते हैं, तो इस तरह की समस्याएं देखने को मिलती है।

स्किन की समस्या (Dry Skin)

ड्राई आई के अलावा लोग ड्राई स्किन की परेशानी से भी जूझ सकते हैं। वैसे एसी (AC Side Effect) में रहने वालों के लिए यह एक कॉमन परेशानी है। जब भी आपका शरीर डिहाइड्रेट होता है तो त्वचा में नमी की कमी होती है और ड्राई स्किन की समस्या उत्पन्न होती हैं। ड्राई स्किन के कारण आपको खुजली और सफेद दाग का सामना भी करना पड़ सकता है।

सांस की बीमारियां (Breathing Problem)

AC में ज्यादा समय बिताने में सांस संबंधी समस्याएं बढ़ सकती हैं। अगर आपको थोड़ी बहुत भी सांस की समस्या है तो आप एसी का प्रयोग कम कर दें। इससे आपको ब्राइट थॉट राइनाइटिस और बंद नाक की समस्या हो सकती है। अगर यह समस्या ज्यादा बढ़ी तो यह नाक के म्यूकस मेंब्रेन में सूजन का कारण बन सकती है।

 

Leave a Comment